Breaking News
  • चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने सुप्रीम कोर्ट में आज चार नए जजों को दिलाई शपथ
  • ह्यूस्टन में हाउडी मोदी कार्यक्रम की सफलता पर भड़का पाकिस्तान
  • आर्मी चीफ बिपिन रावत का बयान, पाकिस्तान ने बालाकोट में आतंकी कैंपों को फिर से सक्रिय कर दिया है
  • गृह मंत्री ने कहा कि कहा कि 2021 की जनगणना में मोबाइल एप का प्रयोग होगा

तीन तलाक पर मोदी का मजाक उड़ा रहे हैं पुलिस वाले!

नोएडा :  ससंद में ध्वनिमत से 3 तालक बिल पास तो हो गया, लेकिन ये कानून ज़मीनी स्तर पर ढलता दिखाई नहीं दे रहा है। कानून के बावजूद भी 3 तलाक के मामले बदस्तूर जारी है, वहीं पुलिस भी बिल पास होने के बाद भी 3 तलाक के मामलों में लापरवाही दिखाती नज़र आ रही है। ताज़ा मामला बहराइच से सामने आया है, जहां शादी के 14 साल बाद एक पति ने दूसरी औरत से संबंध के चलते पत्नी को 3 तलाक देकर उसके मायके भेज दिया, तलाक का एक कारण पत्नी के बच्चे न होना भी बताया जा रहा है, वहीं अब पीड़ित पत्नी इन्साफ के लिए दर-दर की ठोकरें खा रही है।

बता दें कि, मामला बॉर्डर से सटे रुपइडिहा इलाके का है जहां, रामपुर जैता निवासी जब्बार की पुत्री का निकाह 14 साल पहले श्रावस्ती जिले के रहने वाले शमशेर खान से हुआ था, निकाह के बाद शमशेर अपनी पत्नी के साथ मुंबाई में रहने लगा था। पीड़ित पत्नी का आरोप है की उसके पति का वहीं पड़ोस में रहने वाली एक लड़की के साथ सम्बन्ध बन गया, वहीं 14 साल की शादी में अभी तक दोनो की कोई औलाद नहीं थी तो उसका पति उसे धोखे से मायके ले आया और 3 तलाक देकर वहां से चला गया।

हालाकि, महिला ने पति के धोखे से 3 तलाक देकर मायके छोड़ देने के खिलाफ न्याय की आस में जब रुपइडिहा थाने पहुची तो उसे वहां से ये कहते हुए वापस भेज दिया गया की श्रावस्ती पुलिस के पास जाओ। पीड़िता, जिलाधिकारी कार्यालय भी इन्साफ पाने पहुची, लेकिन वहां से भी वो बैरंग वापस लौटी। वहीं जब इस मामले में मीडिया का हस्तक्षेप बढ़ा तो मामला एसपी ग्रोवर तक पहुचा। जिस पर एसपी ने रुपइडिहा पुलिस को मुकदमा दर्ज कार्रवाई के आदेश दिए है।

loading...