Breaking News
  • मोदी की बंपर जीत पर राहुल गांधी ने दी शुभकामनाएं
  • अमेठी सीट से हारे राहुल गांधी, वायनाड से मिली जीत
  • मोदी ने अपने समर्थकों के साथ सरकार बनाने का दावा पेश किया
  • सर्वसहमति से NDA विधायक दल के नेता चुने गए नरेंद्र मोदी
  • राहुल गांधी ने CWC के सामने इस्तीफे की पेशकश की, लेकिन सदस्यों ने ठुकराया: कांग्रेस
  • अमेठी में स्मृति ईरानी के करीबी कार्यकर्ता सुरेंद्र सिंह की गोली मारकर हत्या
  • चार धाम यात्रा: छह महिने के बाद खुले केदारनाथ धाम के कपाट, कल खुलेंगे बद्रीनाथ के कपाट
  • वो (ममता) अब मेरे लिए पत्थरों और थप्पड़ों की बात करती हैं: मोदी
  • पश्चिम बंगाल के बांकुरा में पीएम मोदी की चुनावी रैली, ममता पर बोला हमला
  • लोकसभा चुनाव 2019: NDA को प्रचंड बहुमत, 300 से अधिक सीटों पर बीजेपी की जीत
  • 24 मई: आज भंग हो सकती है 16वीं लोकसभा, पीएम मोदी की अध्यक्षता में केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल की बैठक

अपने आप पर रोने लगे आजम खान? कहा- मुझे गोली मार दो, जमीन के लिए बोझ बन गया हूं

नई दिल्ली: भरी सभा में महिला का अंतर्वस्त्र उछालने के आरोप में प्रतिबंध का सामने के बाद चुनावी मैदान में लैटे आजम खान जनता के बीच रोने लगे। आजम ने आरोप लगाया कि प्रशासन उनके समर्थकों और परिचितों को परेशान कर रही है। उन्होंने कहा कि, मेरे साथ ऐसा सलूक हो रहा है, जैसे मैं दुनिया का सबसे बड़ा आतंकवादी हूं, देशद्रोही हूं। सरकार का वश चले तो मुझे गोलियों से छलनी करवा दे।

आजम खान ने उक्त सभी बाते अपने गढ़ रामपुर में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कही है। समाजवादी पार्टी के सबसे बड़े मुस्लिम चेहरों में से एक आजम खान ने हाल ही में रामपुर से चुनाव लड़ रही बीजेपी नेता व अपने पूर्व सहयोगी फिल्म अभिनेत्री जया प्रदा के लिए बेहद ही अभद्र का का इस्तेमाल किया था। जिसपर संज्ञान लेते हुए चुनाव आयोग ने आजम को किसी भी प्रकार राजनीतिक कार्यक्रम में शामिल होने पर रोक लगा दी थी।

बैन झेलकर चुनावी मैदान में वापसी के साथ ही उन्होंने रामपुर में एक सभा को संबोधित किया। इस दौरान आजम खान सभा के बीच ही भावुक हो गए। नम आंखों के साथ उन्होंने प्रशासन और समर्थकों पर गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि, मैं सरकार और उसके प्रशासन से कहना चाहता हूं कि मेरे घर के दरवाजे तोड़ दो, मुझे गोली मारो, मुझे मार दो ताकि चुनाव से पहले ही ये किस्सा खत्म हो जाए।

उन्होंने कहा कि, मेरा जीना जमीन के लिए बोझ बन गया है। मुझे मार कर खत्म कर दो, मुझे चुनाव नहीं लड़ना। अपने बयानों से महिलाओं के असमत पर जुल्म करने वाले आजम खान ने कहा कि, मैं जुल्मों से नहीं घबराऊगा, लेकिन कमजोरों के साथ जुल्म करोगे तो बर्दाश्त नहीं होगा। इतना कहते ही आज रोने लगे और कहा कि पूरे रास्ते मैं रोता आया हूं। मैं क्या कर सकता हूं। बस यही मेरा अपराध है कि मैंने आपके बच्चों की किस्मत संभालने की कोशिश की है।

loading...