Breaking News
  • उत्तराखंड के उत्तरकाशी में सड़क हादसा, 14 की मौत, 13 अन्य घायल
  • हरियाणा में पीएम मोदी, कुंडली-मानेसर-पलवल वेस्टर्न एक्सप्रेस-वे और बल्लभगढ़ मेट्रो लिंक का उद्घाटन
  • विश्व शौचालय दिवस: हर साल 19 नवंबर को मनाया जाता है

केंद्रीय मंत्री उमा भारती का बड़ा बयान, अपने पापों का प्रायश्चित करें राहुल कहा...

उ.प्र. अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर इन दिनों काफी माहौल गर्म है। सभी राजनीतिक दल आगामी चुनाव में इस मुद्दे का भूनाने में लगे हुए हैं। चाहे वह कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी हो या पीएम मोदी। अब इसी मुद्दे को लेकर केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने एक बड़ा बयान दिया हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को अयोध्या में मंदिर निर्माण की आधारशिला रखने के लिए आमंत्रित किया और कहा कि वह ऐसा करके अपनी पार्टी के पापों का प्रायश्चित कर लेंगे।  

‘सिग्नेचर’ पर बवाल, AAP कार्यकर्ता ने की बीजेपी सांसद मनोज तिवारी से बदसलूकी, धकेला...

   

भारती ने समाचार एजेंसी पीटीआई से कहा, हिंदू विश्व में सबसे सहिष्णु लोग हैं। मैं सभी राजनीतिज्ञों से अपील करती हूं कि अयोध्या में भगवान राम के जन्म स्थान के बाहरी दायरे में एक मस्जिद बनाने की बात करके उन्हें असहिष्णु न बनाएं। उन्होंने कहा कि जब पवित्र मदीना नगर में एक भी मंदिर नहीं हो सकता या वेटिकन सिटी में एक भी मस्जिद नहीं हो सकती तो अयोध्या में किसी मस्जिद की बात करना अनुचित होगा। उमा भारती ने अयोध्या विवाद को आस्था नहीं बल्कि जमीन का विवाद बताया। उन्होंने कहा कि अब यह मात्र जमीन विवाद का एक मामला है, आस्था का नहीं है। यह तय है कि अयोध्या भगवान राम का जन्म स्थान है।

चाचा शिवपाल यादव की पार्टी से चुनाव लड़ना चाहती हैं अपर्णा यादव

उमा भारती ने इस मुद्दे का अदालत के बाहर समाधान किए जाने पर जोर दिया और गांधी, समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव, बसपा नेता मायावती और तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी सहित सभी राजनीतिक नेताओं से इसका समर्थन करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि हमें इस मुद्दे पर सभी राजनीतिक दलों के समर्थन की जरूरत है। मैं राहुल गांधी सहित सभी नेताओं को आमंत्रित करती हूं कि वे मेरे साथ राम मंदिर की आधारशिला रखने के लिए आएं। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि ऐसा करके गांधी परिवार के वंशज कांग्रेस के पूर्व के पापों के लिए प्रायश्चित कर सकेंगे। जिसने अयोध्या में मंदिर बनाने में हमेशा बाधा उत्पन्न की है। उन्होंने कहा कि सपा नेता मुलायम सिंह, बनर्जी, मायावती और वामदलों को इस मुद्दे पर बीजेपी का समर्थन करना चाहिए क्योंकि यह मुद्दा राष्ट्रीय हित का है।

अगर 56 इंच का सीना हैं तो अयोध्या पर अध्यादेश लाकर दिखाएं सरकार : ओवैसी

भारती ने कहा, वे मामले को सुलझने नहीं दे रहे हैं। कांग्रेस को धर्म के नाम पर देश को बांटने की आदत छोड़नी होगी। उन्होंने दोहराया कि सभी पार्टियों को इस मुद्दे पर एकजुट होना होगा। 1990 के दशक में राम जन्म भूमि आंदोलन में हिस्सा ले चुकीं उमा भारती ने कहा कि वे राम मंदिर निर्माण को लेकर पूरी तरह तैयार हैं। उन्होंने कहा कि अगर राम मंदिर का निर्माण मेरे मृत शरीर पर होगा तो वो भी मंजूर है।

पंचायत का काला फरमान, दोनों पतियों को खुश करों, पुलिस प्रशासन भी मौन

loading...