Breaking News
  • आज होंगे लोकसभा अध्यक्ष के चुनाव
  • चमकी बुखार को लेकर झारखंड और मध्य प्रदेश में अलर्ट, बिहार में मरनेवालों की संख्या 119 पार
  • WC 2019 : आज बर्मिंघम में भिड़ेंगे NZ और SA
  • 49 के हुए कांग्रेस के लाड़ले राहुल, पीएम मोदी ने दी बधाई

बुमराह और रोहित की शानदार प्रदर्शन से भारत ने जीता तीसरा वनडे...

NEW DELHI:- मैन ऑफ द मैच जसप्रीत बुमराह (27/5) के बाद सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा (नाबाद 124) और महेंद्र सिंह धौनी (नाबाद 67) के बीच हुई शतकीय साझेदारी के दम पर भारत ने तीसरे वनडे मैच में रविवार को श्रीलंका को छह विकेट से हरा दिया। इस जीत के साथ भारत ने पांच वनडे मैचों की सीरीज में 3-0 की अजेय बढ़त ले ली है।

बुमराह के नेतृत्व में भारतीय गेंदबाजों ने एक बार फिर बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए श्रीलंका को बड़ा स्कोर बनाने से रोका और निर्धारित 50 ओवरों में नौ विकेट पर 217 रनों पर ही सीमित कर दिया। इस आसान से लक्ष्य को भारत ने 45.1 ओवरों में चार विकेट खोकर हासिल कर लिया।

हालांकि इस आसान से लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत ने एक समय 61 रनों पर ही अपने चार विकेट खो दिए थे, लेकिन 145 गेंदों की शतकीय पारी में 16 चौके और दो छक्के मारने वाले रोहित तथा 86 गेंदों की अर्धशतकीय पारी में चार चौके और एक छक्का मारने वाले धौनी ने पांचवें विकेट के लिए 157 रनों की साझेदारी कर भारत को जीत दिलाई।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम को पहला झटका शिखर धवन (5) के रूप में लगा। वह नौ रनों के कुल स्कोर पर आउट हुए। उन्हें लसिथ मलिंगा ने बोल्ड किया। कुल स्कोर में 10 रन ही और जुड़े थे कि विश्वा फर्नाडो ने कप्तान विराट कोहली (3) को आउट कर भारत को बड़ा झटका दिया।

यहां से लोकेश राहुल (17) ने रोहित के साथ टीम का स्कोर 61 तक पहुंचाया। लय में आती दिख रही इस जोड़ी को अकिला धनंजय ने तोड़ा। उन्होंने राहुल को आउट किया। इसी स्कोर पर उन्होंने केदार जाधव को बिना खाता खोले पवेलियन भेजा।

लेकिन इसके बाद श्रीलंकाई गेंदबाज लाख प्रयासों के बाद भी धौनी और रोहित की जोड़ी को तोड़ नहीं पाए और यह दोनों टीमों को जीत दिला ले गए।

हालांकि जब भारत का स्कोर 44 ओवरों में 210 रन था तभी मैदान के एक छोर पर दर्शकों ने बोतलें फेंकनी शुरू कर दीं, जिससे मैच कुछ देर के लिए रोकना पड़ा और खिलाड़ियों को मैदान से बाहर जाना पड़ा। कुछ देर बाद दर्शकदीर्घा से दर्शकों को बाहर भेज दिया गया और मैच एक बार फिर शुरू हुआ।

इससे पहले, उपुल थंरगा की गैरमौजूदगी में टीम की कमान संभाल रहे चमारा कापुगेदरा ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का निर्णय लिया। निरोशन डिकवेला (13) के साथ पारी की शुरुआत करने दिनेश चांडीमल आए थे। डिकवेला को बुमराह ने अपना पहला शिकार बनाया। वह 18 के कुल स्कोर पर बुमराह की गेंद पर पगबाधा करार दे दिए गए। बुमराह ने 10 रन बाद कुशल मेंडिस (1) को भी पवेलियन भेज दिया।

यहां से थिरिमाने ने चंडीमल के साथ पारी को आगे बढ़ाया और टीम का स्कोर 100 तक पहुंचा दिया। अच्छी लय में नजर आ रहे चंडीमल को पांड्या ने बुमराह के हाथों लपकावा कर उनकी 36 रनों की पारी का अंत किया।

यहां से भारतीय गेंदबाज लगातार विकेट लेते रहे। थिरिमाने एक छोर पर अकेले खड़े थे। पूर्व कप्तान एंजेलो मैथ्यूज ने एक बार फिर निराश किया। वह सिर्फ 11 रनों का योगदान दे सके। श्रीलंका का अगला विकेट थिरिमाने के रूप में गिरा। उन्हें बुमराह ने जाधव के हाथों कैच आउट कराया। थिरिमाने ने 105 गेंदों का सामना करते हुए पांच चौके और एक छक्का लगाया। वह 159 के कुल स्कोर पर आउट हुए।

निचले क्रम में मिलिंदा श्रीवर्दने ने जरूर संघर्ष करते हुए 29 रन बनाए लेकिन कोई और बल्लेबाज टीम को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाने में उनकी सहायता नहीं कर पाया। कप्तान कपुगेदरा 14 रन ही बना सके।

बुमराह के अलावा हार्दिक पांड्या, अक्षर पटेल और केदार जाधव ने एक-एक विकेट लिए।

loading...