Breaking News
  • विश्व महिला मुक्केबाजी चैंपियनशिप में भारत की युवा मुक्केबाज मंजू रानी ने हासिल किया रजत पदक
  • जम्मू-कश्मीर में मोबाइल पोस्टपेड सेवाएं सोमवार से बहाल
  • अयोध्या भूमि विवाद पर फैसले से पहले धारा 144 लागू, इस हप्ते आखिरी सुनवाई

मोदी सरकार ने किया नये नेशनल अवार्ड का ऐलान, जानिए किसे और क्यों मिलेगा

नई दिल्ली: भारत सरकार के गृह मंत्रालय ने राष्ट्रीय एकता और अखण्डता को प्रोत्साहित करने के लिए एक नये सम्मन का ऐलान किया गया है। यह सम्मान पद्म पुरस्कारों की तर्ज पर शुरू किया गया है। जिसे सरदार पटेल राष्ट्रीय सम्मान कहते है। सरदार पटेल राष्ट्रीय एकता सम्मान देश की एकता और अखंडता में योगदान देने वाले संस्थानों और व्यक्तियों को दिया जाएगा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पिछले साल दिसंबर में गुजरात के केवड़िया में आयोजित पुलिस महानिदेशकों और पुलिस महानिरीक्षकों के वार्षिक सम्मेलन में इस सम्मान की घोषणा की थी। सरकार पटेल की चर्चित प्रतिमा यूनिटी ऑफ स्टैचू भी यहीं लगाई गई है।

गृह मंत्रालय की ओर से जारी नोटिफिकेशन के अनुसार, 'भारत का कोई भी नागरिक या संस्थान इस सम्मान के लिए धर्म, संप्रदाय, जाति, लिंग, जन्म स्थान, रोजगार के आधार पर बिना किसी भेदभाव के इसके लिए योग्य है।' अधिसूचना में कहा गया है कि सम्मान पाने वालों के नाम भारत के राजपत्र में प्रकाशित होंगे और राष्ट्रपति के निर्देश के अनुसार सम्मान पाने वाले सभी लोगों के नाम की सूची रखी जाएगी।

यह सम्मान कमल के पत्ते के आकार का होगा। इसकी लंबाई छह सेंटिमीटर, चौड़ाई छह और दो सेंटीमीटर, और मोटाई चार मिलीमीटर होगी। राष्ट्रपति को इस सम्मान को वापस लेने, देने से इनकार करने और उसे रद्द करने का अधिकार होगा। ऐसी स्थिति में सम्मान पाले वाले व्यक्ति या संस्था का नाम रजिस्टर से काट दिया जाएगा। ऐसे में सम्मान पाने वाले शख्स या संस्था को पदक और सम्मान चिह्न वापस करना होगा।

loading...