Breaking News
  • कोलकाता में ममता की महारैली में जुटा मोदी विरोधी मोर्चा, केजरीवाल, अखिलेश समेत 20 दिग्गज नेता
  • कर्नाटक: रिसॉर्ट में ठहरे कांग्रेस विधायकों के बीच मारपीट
  • 2019 की लड़ाई लीडर्स और डीलर्स के बीच की लड़ाई है: भाजपा
  • पुणें में खेलों इंडिया यूथ गेम्स का समापन समारोह

गुजरात से अब भी भाग रहें है उत्तर भारतीय, नहीं है राज्य सरकार पर भरोसा

गुजरात : इन दिनों गुजरात में उत्तर भारतिय लोगों के साथ जो हो रहा हैं उससे आप भलीभांति परिचित है कि किस प्रकार उन्हें गुजरात से जबरदस्ति भगाया जा रहा है। वे उसका विरोध करते हैं तो उन्हें जान से मारने की धमकी दी जाती है। राज्य सरकार उत्तर भारत के लोगों को यह भरोसा दिला रहीं है कि आप गुजरात छोड़कर नहीं जाए, आपको पूरी सुरक्षा मुहैया कराई जाएगी। लेकिन साहब आपके सुरक्षा के वादा करने के बावजूद भी उत्तर भारत के लोग वापस क्यों जा रहा है। इसका सबस बड़ा कारण है वहां की शासन व्यवस्था।

बीजेपी नेता आइपी सिंह ने लगाया गृहमंत्री राजनाथ सिंह बड़ा आरोप, कहा राजनाथ ने...

आपको बता दे कि गुजरात में यह कोई पहली दफा नहीं है कि किसी छोटी बच्ची से बलात्कार किया गया हो इससे पहले भी कई बार यहां बलात्कार की घटनाएं हुई है। लेकिन इस बार जान बूझकर वहां के क्षेत्रीय नेताओं के द्वारा इस तरह के बातों को तूल दिया जा रहा है। बलात्कार किसी एक ने किया है तो आप उसे सजा दें। सभी उत्तर भारतीय को क्यों? बता दे कि गुजरात के साबरकांठा में एक बच्ची के साथ बलात्कार के बाद राज्य में उत्तर भारतीयों पर लगातार हमले किए जा रहे है।

घर के बाहर और पार्किंग से जब्त हो रही पुरानी गाड़ियां, दिल्ली पुलिस ने तैयार की पूरी लिस्ट

बता दे कि राज्य सरकार भी पूरी तरह वहां के क्षेत्रीय नेताओं के सामने विवश हो चुकी है। क्योंकि उनकी पकड़ खुद वहां की शासन व्यवस्था पर नहीं है। राज्य सरकार उत्तर भारतीय मुद्दे पर तब एक्शन लेती है जब चारों तऱफ लोग उनके शासन की आलोचना करते है। इसके साथ ही आपको हम यह भी बता दे कि अभी तक इस विषय पर पीएम मोदी ने कुछ नहीं कहा हैं। गुजरात में अब तक 342 लोगों को गिरफ्तार किया गया है, जिन पर 42 मामले दर्ज किए गए है। लेकिन अभी भी गुजरात से उत्तर भारत के लोगों का पलायन जारी है।

मोदी सरकार पर सबसे बड़ी सकंट, राफेल डील पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा...​      

loading...