Breaking News
  • मोदी की बंपर जीत पर राहुल गांधी ने दी शुभकामनाएं
  • अमेठी सीट से हारे राहुल गांधी, वायनाड से मिली जीत
  • मोदी ने अपने समर्थकों के साथ सरकार बनाने का दावा पेश किया
  • सर्वसहमति से NDA विधायक दल के नेता चुने गए नरेंद्र मोदी
  • राहुल गांधी ने CWC के सामने इस्तीफे की पेशकश की, लेकिन सदस्यों ने ठुकराया: कांग्रेस
  • अमेठी में स्मृति ईरानी के करीबी कार्यकर्ता सुरेंद्र सिंह की गोली मारकर हत्या
  • चार धाम यात्रा: छह महिने के बाद खुले केदारनाथ धाम के कपाट, कल खुलेंगे बद्रीनाथ के कपाट
  • वो (ममता) अब मेरे लिए पत्थरों और थप्पड़ों की बात करती हैं: मोदी
  • पश्चिम बंगाल के बांकुरा में पीएम मोदी की चुनावी रैली, ममता पर बोला हमला
  • लोकसभा चुनाव 2019: NDA को प्रचंड बहुमत, 300 से अधिक सीटों पर बीजेपी की जीत
  • 24 मई: आज भंग हो सकती है 16वीं लोकसभा, पीएम मोदी की अध्यक्षता में केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल की बैठक

दिवाली बाद प्रदूषण बढ़ने की आशंका के चलते ट्रकों की एंट्री पर लगी रोक

नई दिल्ली: दिवाली के बाद दिल्ली में प्रदूषण का स्तर बढ़ने की संभावनाओं के बीच राष्ट्रीय राजधानी में ट्रकों के प्रवेश पर आठ नवंबर से लेकर 10 नवंबर तक प्रतिबंध लगा दिया गया है। सर्वोच्च न्यायालय से अधिकार प्राप्त पर्यावरण प्रदूषण (नियंत्रण एवं रोकथाम) प्राधिकरण (ईपीसीए) ने प्रतिबंध का फैसला किया है।

आवश्यक वस्तुओं की ढुलाई करने वाले ट्रक को इस प्रतिबंध से छूट दिया गया है।

इस संबंध में ईपीसीए ने उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान और दिल्ली के मुख्य सचिवों को दिशानिर्देश जारी किए हैं।

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) ने राज्यों को लिखे पत्र में ट्रांसपोर्टरों एवं पुलिस से यह सुनिश्चित करने को कहा है कि ट्रक दिल्ली में प्रवेश न करें।

पत्र में कहा गया है कि राज्य सरकार के अधिकारी लोगों को इस मुद्दे पर जागरूक करें और कहें कि इस अवधि के दौरान कोई भी व्यक्ति डीजल कार का इस्तेमाल न करें।

ईपीसीए के चेयरमैन भूरे लाल ने कहा है कि हवा की गुणवत्ता पर निगरानी रखने वाली संस्था सफर ने कहा है कि दिवाली के बाद आठ नवंबर से हवा की गुणवत्ता बेहद खराब हो सकती है।

पत्र में कहा गया है कि इस अनुमान और सीपीसीबी के कार्यबल की सिफारिश के आधार पर ट्रकों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगाया गया है।

loading...