Breaking News
  • विश्व महिला मुक्केबाजी चैंपियनशिप में भारत की युवा मुक्केबाज मंजू रानी ने हासिल किया रजत पदक
  • जम्मू-कश्मीर में मोबाइल पोस्टपेड सेवाएं सोमवार से बहाल
  • अयोध्या भूमि विवाद पर फैसले से पहले धारा 144 लागू, इस हप्ते आखिरी सुनवाई

महाराष्ट्र-हरियाणा विधानसभा चुनाव के लिए तारीखों का ऐलान, पहली बार होगा ऐसा

नई दिल्ली: बीते काफी दिनों से जारी गहमागहमी के बीच महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनाव की तारीख का ऐलान कर दिया गया है। दोनों राज्यों में 21 अक्टूबर को एक ही चरण में मतदान होगा, जबकि 24 अक्टूबर को वोटों की गिनती की जाएगी। मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने चुनावी कार्यक्रम की जानकारी देते हुए बताया कि दोनों राज्यों में 27 सितंबर को अधिसूचना जारी की जाएगी।

इसके साथ ही चुनाव आयोग ने अलग-अलग राज्यों की 64 विधानसभा सीटों और बिहार की समस्तीपुर लोकसभा सीट पर उपचुनाव के लिए 21 अक्टूबर का दिन तय किया है। अब जरा ये भी जानिए कि चुनाव आयोग ने चुनावी तैयारियों को लेकर क्या-क्या कहा....

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा कि 4 अक्टूबर तक नामांकन किया जा सकता है और नामांकन वापस लेने का समय 7 अक्टूबर तक होगा।

288 विधानसभा सीटों वाले महाराष्ट्र में और 90 सीटों वाले हरियाणा में ही एक ही राउंड में मतदान होगा।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस चुनावी प्रक्रिया के तहत महाराष्ट्र में 8.9 करोड़ वोटर और हरियाणा में 1 करोड़ 28 लाख मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे।

महाराष्ट्र में मतदान की प्रक्रिया को पूरा करने के लिए 1.8 लाख ईवीएम का इस्तेमाल होगा, जबकि हरियाणा में 1.3 लाख ईवीएम का इस्तेमाल होगा।

आपराधिक रिकॉर्ड की जानकारी न देने पर कैंडिडेट्स का पर्चा रद्द होगा।

एक कैंडिडेट्स चुनाव में अधिकतम 28 लाख रुपये तक खर्च कर सकता है।

चुनावी खर्च की निगरानी के लिए पर्यवेक्षकों की नियुक्ति की जाएगी।

चुनाव में हिस्सा ले रहे उम्मीदवारों को अपने हथियार जमा कराने होंगे।

इसके अलावा चुनाव आयोग ने प्रचार में पर्यावरण का ध्यान रखते हुए प्लास्टिक का इस्तेमाल न करने की अपील की है।

चुनावी शेड्यूल के ऐलान के साथ ही दोनों राज्यों में चुनाव आचार संहिता भी लागू हो गई है।

अब दोनों राज्यों में कोई नई घोषणाएं नहीं की जा सकेंगी।

आपको बता दें कि हरियाणा में 2 नवंबर को मौजूदा विधानसभा का कार्यकाल समाप्त हो रहा है, जबकि महाराष्ट्र में 9 नवंबर को कार्यकाल समाप्त होगा। फिलहाल दोनों ही राज्यों में बीजेपी सत्ता में है, ऐसे में उसके लिए दोनों राज्यों में अपनी सत्ता को बचाए रखने की चुनौती होगी। महाराष्ट्र में बीजेपी शिवसेना के साथ गठबंधन सरकार चला रही है, जबकि हरियाणा में वह बहुमत के साथ शासन में है।

loading...