Breaking News
  • उत्तराखंड के उत्तरकाशी में सड़क हादसा, 14 की मौत, 13 अन्य घायल
  • हरियाणा में पीएम मोदी, कुंडली-मानेसर-पलवल वेस्टर्न एक्सप्रेस-वे और बल्लभगढ़ मेट्रो लिंक का उद्घाटन
  • विश्व शौचालय दिवस: हर साल 19 नवंबर को मनाया जाता है

भूलकर भी गाय को कभी नहीं खिलानी चाहिए बासी रोटी

शास्त्रों में गाय का स्थान पूजनीय माना गया है। यही कारण है कि गाय को गौमाता कहकर भी पुकारा जाता है। गाय ही एक ऐसी पशु है जिसमें 33 हजार देवी-देवताओं का वास होता है। गाय का दूध हमारे शरीर के लिए स्वास्थ्यवर्धक और लाभदायक माना गया है।

गाय को रोटी खिलाने के फायदे

ऐसा कहा जाता है कि गाय की सेवा करने से घर-परिवार सुखी संपन्न रहता है। हिन्दू धर्म के अनुसार जिस घर में गाय की सेवा निःस्वार्थ भाव से की जाती है उस घर में सदैव लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है।

शास्त्रीय मान्यता के अनुसार शहरों में गाय को रोटी खिलाई जाती है। लेकिन आजकल गाय को रोटी खिलने का प्रचलन बदल गया है। बदलते समय में कई बार बड़ी भूल हो जाती है जो कि अशुभ मानी जाती है।

गाय को रोटी खिलाते वक्त रखें इन बातों का ध्यान

गाय को रोटी खिलाना शुभ माना जाता है। लेकिन आजकल इसका तरीका बदल गया है जो कि बेहद अशुभ माना जाता है। लोग गाय के लिए रोटी तो रखते हैं लेकिन समय से इसे खिला नहीं पाते हैं। कई बार तो गाय के रखी गई रोटी दो या तीन दिन के बाद खिलाई जाती है।

गाय के लिए रखी गई रोटी को जब कुछ दोनों के अंतराल के बाद खिलाई जाती है तो ऐसी स्थिति में घर में बदहाली, दुखों का साया मंडराने लगता है। ऐसे स्थिति में यह सदैव ध्यान रखना चाहिए कि गाय को खिलाने के लिए जो रोटी रखी गई है वह बासी ना हो।

साथ ही यह भी ध्यान रखना चाहिए कि गाय को बासी रोटी खिलाना उनका अपमान करना है, इसलिए यदि आप भी ऐसा काम करते हैं तो आज ही इस आदत को बदल डालें।

 

loading...